israel flag

क्या भारत को इजराइल बनना होगा?

Print Friendly, PDF & Email

क्या भारत को इजराइल बनना होगा?

यदि ऐसा हो जाये तो इससे बेहतर कुछ भी नहीं हो सकता, लेकिन ऐसा होगा नहीं कभी भी यहाँ , क्यूंकि इसके लिए देश के हर निवासी मे अपने राष्ट्र के लिए मर मिटने का जज्बा होना चाहिए जो इस देश के लोगो मे कभी का ख़त्म हो चुका है।

हा हा हा खुदगर्ज़, मक्कार और देशद्रोहियों से भरे इस देश की इजराइल जैसे महान और देशप्रेमियों से भरे उसके लिए अपना सर्वस्व अर्पण करने के लिए तैयार इसराइलियों से कोई भी तुलना नहीं, यहाँ तो देश को बेचनेवाले, इसका सौदा और टुकड़े टुकड़े करने वालों और उनकी जय जय कर करनेवालों और उनकी पैरवी करनेवाले पिशाच और गद्दार बसते हैं.

यह देश कभी भी इजराइल भी इजराइल की तरह चुस्त, समर्पित और निर्भीक नहीं बन सकता, यह यहाँ के लोगो के डीएनए मे ही नहीं है, कभी रहा होगा लेकिन पिछले १२०० सालों से तो यह देश अपनी माँ का सौदा करनेवालों, अपनी बहिन बेटियों पे बलात्कार करने वालों का नपुंसक, गुलाम और आत्महीन लोगों का देश बन चूका है।

यहाँ अब न ईमान बचा है लोगो मे न शर्म, सिर्फ खून की खराबी और निर्लज्जता और हद दर्जे की बेशर्मी और नीच गन्दी मानसिकता, यह बनेंगे इजराइल की तरह, इनकी औकात नहीं की यह उसके आस पास की भी औकात बना पाए।

यह १३० करोड़, नापाक, नीच नपुंसक और आत्महीन लोगो का देश है, इसने अपना गौरव, अपनी अस्मिता अपने हमलावरों के हाथों कब की खो दी, अब यह जिन्दा लाशों और प्रेतों की भूमि है, जहाँ हर अच्छी बात और जागृत इन्सान एक गाली है, और हर नीच और कलंकित बात और गद्दारी एक पुरुष्कार।

इस देश के लोग सर्वाधिक नीच, भ्रस्ट और आत्महीन लोग है, अपनी ही माटी और जन्मभूमि से गद्दारी करनेवाले और इसकी अस्मिता को नीलाम करनेवाले, यह लोग हज़ार जन्म भी ले ले तो इजराइल के नागरिकों की तरह जज्बा और समर्पण पैदा नही कर सकते।

कुछ बुनियादी खराबी इस देश के लोगो के खून मे शामिल हो गयी है पिछले १२०० साल मे जिसने उन्हें इस धरती पे रेंगने वाले कीड़ो की तरह बना दिया है वो अपने गौरवमयी अतीत और इस धरती पे जन्म लिए सभी महान आत्माओं की विरासत को भूल गए हैं, उसे पहचानने और स्वीकार करने से इनकार कर रहे हैं, उसे जलील और तिरस्कृत कर रहे हैं।

आज तो यह हालात है की लोग अपने स्वार्थ और सुख के लिए इस देश के टुकड़े टुकड़े करना चाहते है, अपने स्वार्थ और सत्ता के लिए इसकी अस्मिता का सौदा किसी से भी करने के लिए तैयार हैं। इस देश के लोगो की आत्मा और जमीर बहुत पहले मर चुका है, उन्होंने अपनी जात, धर्म, बाप सब बदल लिए सिर्फ, गुलाम और नरक के कीड़े की तरह जिन्दा रहने के लिए और इसे अपने जैसे नरपशुओं से भरने के लिए।

क्या भारत को इजराइल बनना होगा?

इजराइल इस धरती पर महानतम देशों मे से एक है और यहूदी विश्व के सबसे प्रतिभाशाली और सबसे गुणवान कौमों मे से एक हैं, वो सर्वोच्च स्थान पर है, इस विश्व मे आज तक महानतम अविष्कारों के लिए सबसे ज्यादा नोबेल पुरुष्कार यहूदी मूल के लोगो को मिले हैं, धरती पे सर्वाधिक समृद्ध और शानदार उद्यमी यहूदी हैं, आपके फेसबुक के मार्क जुकरबर्ग सहित।

हमारे देश के छोटे से राज्य जितना बड़ा है इजराइल लेकिन पूरे विश्व मे उन्हें चुनौती देने की हिम्मत किसी भी बड़े से बड़े राष्ट्र की नहीं, इसका राज है वहाँ के जर्रे जर्रे का अपनी धरती अपने राष्ट्र के लिए समर्पण, उन्होंने तकनीक और प्रौद्योगिकी मे बेमिसाल कीर्तिमान खड़े किये है, सारा विश्व उनके अविष्कारों और उनकी सामरिक नीति का प्रसंशक है।

इस देश की जनता और इस देश के नेता दोनों ही इस देश के सर्वनाश के लिए जिम्मेदार है, सिर्फ इस देश की सरकार वोट बैंक और एक खास समुदाय के लोगो की चापलूसी और पक्षपात की राजनीति बंद कर दे सभी किस्म के विशेषाधिकार और आरक्षण जाति, धर्मं के आधार पर ख़त्म कर दिए जाये और यूनिफार्म सिविल कोड लागू कर दे, इस देश की तस्वीर एक साल मे बदल जाएगी।

राष्ट्र और इसकी प्राचीन सांस्कृतिक और आध्यात्मिक विरासत के विरुद्ध बातें करनेवाले, इसे अपमानित करनेवाले, इसे नष्ट करने का  षड़यंत्र करनेवाले देश विरोधी बातें और काम करनेवालों को सीधे मृत्युदंड का प्रावधान किया जाये, एक साल मे इस देश की स्थिति बदल जाएगी, स्त्रियों और मासूम बच्चियों के साथ पशुवत व्यवहार और बलात्कार जैसा जघन्य अमानवीय अपराध करनेवालों को १० दिन के अंदर फांसी की सजा दे दी  जाये, इस देश मे बहुत कुछ बदल जायेगा।

यदि ऐसा नहीं किया तो यह देश आत्मनिर्भरता, आतंरिक एकता और और आतंरिक और बाह्य शत्रुओं से कभी भी सुरक्षित नहीं रहेगा और न कभी जो विवाद और बेहुदे मसले इस देश मे हर तरफ चल रहे हैं ख़त्म होंगे कभी भी, यह देश कभी भी इजराइल के आस पास भी नहीं बन सकेगा।

चाहे इस देश के नेता और सरकार कितिनी भी बड़ी बड़ी बात करते रहे, यह देश सबसे भ्रष्ट, आत्महीन और सबसे नीच और नपुंसक नागरिको से भरा एक गन्दा, कुरूप, भ्रष्ट और विवादित देश बना रहेगा और इसे इस देश के लोग ही बदल सकते है, और आज अभी ही इसके लिए अवसर है, अपनी राष्ट्र भक्ति दिखाकर और यहाँ मौजूद हर खराबी और गंदगी को जड़ से मिटाकर. जय हिन्द जय भारत जय इजराइल।

यह प्रश्न मेरे ब्लॉग एवं Quora के प्रबुध्द पाठक द्वारा पूछा गया है 

Spread the love
  • 4
    Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *