मनुष्य जीवन की सार्थकता

मनुष्य जीवन की सार्थकता

मनुष्य जीवन की सार्थकता प्यारे मित्रों, यह दिवस, आनंद और प्रेम से पूर्ण और परमात्मा की रौशनी से आलोकित हो, बहुत अनोखी किंतु सच्ची बात यह है की प्रकृति ने हर जीव को जन्म के साथ ही उसे  सारी जानकारी और शक्ति के साथ यहाँ भेजा है ताकि वो अपने जीवन की सुरक्षा और पालन कर सके, लेकिन वो अपनी मूल प्रवत्तियों, भोजन, निद्रा, काम, और अपनी आत्मरक्षा के अतिरिक्त कुछ भी नहीं करते और ना उनके पास इसकी समझ और जरुरत होती है, क्यूंकि उनमे, विवेक, विचार और बुद्धि नहीं होती, वो बस अपनी प्रवृत्तियों के आधीन जीवन जीते[…]

Read more
सही जीवन की दिशा

सही जीवन की दिशा

सही जीवन की दिशा बहुत पुरानी बात है, एक आदमी एक फकीर के पास पहुंचा फकीर ने उसे गौर से देखा, उस आदमी ने फकीर को सलाम किया और कहा बाबा, मुझे कुछ पूछ्ना है, फकीर ने कहा, पहले एक बात बताओ – जो जानना चाहते हो उसके लिये क्या कर सकते हो? उस आदमी ने कहा, कुछ भी, फकीर ने कहा सोच समझ के जवाब देना, क्युंकि तुम्हारे सवाल का जवाब इसी बात पे निर्भर है, उस आदमी ने घमंड से कहा, जो भी होगा कबूल होगा, एक मर्द का वादा है, फकीर ने उसे देखा और कहा पूछो[…]

Read more
सचेतन जीवन

सचेतन जीवन

सचेतन जीवन प्यारे दोस्तो,  कुछ  बेहद जरूरी बातें भी है, जिसे मैं सभी के साथ बांटना चाहता हूं, यदि यह आपको रुचिकर लगे एवं  लगन हो इसे सुनने, समझने और ग्रहण करने की और इससे लाभ प्राप्त करने की तो यह बेहतर बात होगी। मै एक स्वतंत्र, एकाकी और प्रयोगधर्मी व्यक्ति हूं, जीवन को उसके पूरे रूप मे जीना ही मेरे जीवन का मूल उद्देश्य रहा है, और यही आज तक मैंने किया है और करता रहूंगा जीवन पर्यंत। हम सब में कमजोरियां है, गलत आदतों, सोचों की गुलामी है, हम सभी की असफलताओ की कहानियां है, मेरा अपना जीवन[…]

Read more